Meri Duniya
Other कविता कहानी ग़ज़ल लेख सम्पादकीय

मुजफ्फरपुर में पकड़ाया तीन करोड़ का सोना मुंबई पहुंचना था: म्यांमार से बनारस के दो आभूषण व्यवसायियों ने मंगाया था, मुम्बई के तस्करों को करना था सप्लाई

Hindi NewsLocalBiharMuzaffarpurMuzaffarpur News; Two Jewelery Businessmen Of Varanasi Had Ordered Gold Biscuits From Myanmar, Smugglers Of Mumbai Had To Supply

मुजफ्फरपुर3 घंटे पहले

कॉपी लिंकजब्त तीन करोड़ के गोल्ड बिस्कुट। - Dainik Bhaskar

जब्त तीन करोड़ के गोल्ड बिस्कुट।

DRI और कस्टम टीम द्वारा मुजफ्फरपुर में जब्त 3 करोड़ के सोने की बिस्कुट की तस्करी मामले में अहम जानकारी सामने आई है। गिरफ्तार तस्करों ने बताया कि बनारस के दो आभूषण व्यवसायियों ने म्यांमार से इसे मंगाया था, जिसे मुम्बई के तस्करों को सप्लाई करने की योजना थी।

सूत्रों की माने तो मुज़फ़्फ़रपुर DRI के अलावा बनारस व मुंबई की टीम भी छानबीन में जुट गई है। मुम्बई के तस्करों और बनारस के व्यवसायियों का सत्यापन किया जा रहा है। गिरफ्तार तस्कर उत्तर प्रदेश के गाजीपुर जिला के सुहवल थाना क्षेत्र के युवराजपुर के शक्ति कुमार सिंह, बलिया जिला के महधानपुर के राणा प्रताप और साउथ वेस्ट दिल्ली के सगरपुर के नागेंद्र भारती ने म्यांमार, बनारस और मुंबई के तस्करों के नाम DRI को बताए हैं।

इसी आधार पर टीम आगे की कार्रवाई कर रही है। वे बनारस के आभूषण कारोबारी के यहां नौकरी करते है। वेतन के अलावा हेराफेरी के लिए अतिरिक्त 20 हजार रुपए मिलते थे। सोने के बिस्कुट 24 कैरेट के बताए गए हैं।

गुवाहाटी के मुकेश ने दिया था बिस्कुट छानबीन में पता लगा कि गुवाहाटी के तस्कर मुकेश कुमार सिंह ने इन तीनों को सोने की बिस्कुट उपलब्ध कराई थी। तस्करों के पास से जब्त मोबाइल से भी महत्वपूर्ण सुराग मिले हैं। ये लोग व्हाट्सएप से कॉलिंग और चैटिंग करते थे। ताकि पकड़ में नहीं आ सके।

जयनगर के तस्कर की 95 लाख की जब्त चांदी में संलिप्तता गत दिनों मनियारी टोल प्लाजा के समीप कार से जब्त 260 किलोग्राम चांदी के बूंदी मामले में पकड़े गए तस्करों ने कई खुलासे किए हैं। DRI को बताया है कि वे लोग मधुबनी के जयनगर स्थित इंडो-नेपाल बोर्डर से चांदी की बुंदी तस्करी कर भारत लाए थे। जिसे मुजफ्फरपुर के आभूषण कारोबारी विकास अग्रवाल ने 95 लाख में खरीदा था।

जयनगर में ‘कारी’ नाम के तस्कर ने उसे चांदी की बुंदी सौंपा था, जिसे विकास अग्रवाल ने संतोष के हाथों बेच दिया था। इसे लेकर उनका बेटा शशांक अग्रवाल, संतोष व अन्य बेचने के लिए कोलकता जा रहें थे। इस दौरान सभी पकडे गए थे। जयनगर के तस्कर का नाम सामने आने के बाद टीम उसकी तलाश में जुट गई है।

खबरें और भी हैं…

Related posts

बिहार के पानी में यूरेनियम का जहर: महावीर कैंसर संस्थान ने पानी की रैंडम सैंपलिंग से किया चौंकाने वाला खुलासा, अब तलाशा जाएगा यूरेनियम का स्रोत

cradmin

बिहार के उपचुनाव में रहेंगे RJD के तीन पुराने मुद्दे: महंगाई, बेरोजगारी और भ्रष्टाचार पर ही BJP-JDU को घेरेंगे तेजस्वी; विधानसभा चुनाव में भी इसी से दिया था ’15 साल’ का जवाब

cradmin

कैमूर में मिनी फैक्ट्री का किया भंडाफोड़;: मोहनिया में एक देसी कट्टा, दो जिंदा कारतूस, 8 खोखा सहित दो गिरफ्तार; फैक्ट्री से कई उपकरण बरामद

cradmin

केंद्रीय कोटे से कम बिजली मिलने का खामियाजा: उत्तर-पूर्वी बिहार के नौ जिलों में मांग से कम हुई आपूर्ति, छह जिलों में घंटों तक लोडशेडिंग

cradmin

बेगूसराय में भयानक सड़क हादसा: तेघड़ा में स्कार्पियो ने दो बाइकों को रौंदा, दोनों पर सवार महिला समेत दो की मौत, एक वर्ष की बच्ची समेत तीन की हालत गंभीर

cradmin

बिहार में नवरात्र की धूम, देखिए Video: पटना के पंडालों में उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़, देखें माता के अलग-अलग रूप

cradmin

Leave a Comment